कमालका इश्क है तेरा , सारा घुल गया मुझमें फिर भी पूरा मिला नहीं।

कमालका इश्क है तेरा ,

 सारा घुल गया मुझमें 

फिर भी पूरा मिला नहीं।

No comments:

Post a Comment